सावन की बारिश – डी के निवातिया

सावन की बारिश ने मुझे सताया बहुत है,
तेरी यादो ने अबकी दिल दुखाया बहुत है,
वैसे तो पहले भी कई दफ़ा तन्हा रहे, मगर
इस बार मुहब्बत ने मुझे रुलाया बहुत है !!

!
डी के निवातिया

Leave a Reply