तेरी तस्वीर

तेरी तस्वीर देखकर मुझे
प्यार तुम पर आने लगा
तुम ही हो मेरी जिंदगी
ये सोचकर आँहें भरने लगा

तस्वीर में सुंदरता देखकर तुम्हारी
नजदीकियों का आभास होने लगा
तुमको ले लूं आगोश में अपने
ये सोच कर तुममें खोने लगा

तस्वीर से निकल आओगी अभी
ये सोच कर दिल धड़कने लगा
तुम ही हो मेरे दिल की आरजू
नादान दिल मेरा ये कहने लगा

अभी तो तस्वीर में देखा है
और जादू तुम्हारा छाने लगा
कल्पना करूं क्या मैं साक्षात होने की
जब तस्वीर से ही नशा गहराने लगा

तेरी तस्वीर देखकर मुझे
प्यार तुम पर आने लगा
तुम ही हो मेरी जिंदगी
ये सोचकर आँहें भरने लगा
……………………………………………..
देवेश दीक्षित

Leave a Reply