कब समझेगा – डी के निवातिया

कब समझेगा

वक़्त बता रहा है तुझको तेरी खामियां,
पहचान ले अब तो अपनी नाकामिया,
अब नहीं समझा तो क्या तब समझेगा,
जब मिट जायेंगी जहां से तेरी निशानियां !!

***

डी के निवातिया

Leave a Reply