कुछ तो बात करते हैं…

एक कॉल, एक sms, एक व्हाट्सअप मैसेज..
छोटी सी ही सही,
कहीं से तो शुरुआत करते हैं..
कुछ तो बात करते हैं…

गलती तेरी थी या मेरी,
किसने लड़ाई की धुन थी छेड़ी,
झूटमूठ का हिसाब करते हैं..
कुछ तो बात करते हैं..

कुछ तो बांटा होगा हमने,
जो पास होगा, जो ख़ास होगा,
लम्हा-लम्हा बटोरते हैं,
कुछ तो बात करते हैं…

पीछे मुड़कर क्यों देखे..
चलते-चलते इतनी दूर निकल आये हैं,
कुछ देर और साथ चलते हैं…
कुछ तो बात करते हैं…

Leave a Reply