तेरी हसरतों मे हूँ।

न तेरे प्यार मे हूँ,
न तेरे नफरतों मे हूँ,
किसी ओर तो जाने दे मुझे,
बरसों से तेरी हसरतों मे हूँ।

तू आया तो था इसी रास्ते,
ठहरा न तू एक नजर तलक,
देखती रही तूझे मे दूर तलक,
बूंद भरे आँखों मे देखती रही
ओझल तलक,
न मे तेरी नफरतों मे हूँ,
हूँ तो बस ,
बरसों से तेरी हसरतों मे हूँ।

Leave a Reply