एक मस्तीखोर लड़की………………………देवेश दीक्षित

एक मस्तीखोर लड़की

एक शोर मचाती लड़की

मुझे परेशान कर रही है

फोन की मांग कर रही है

 

जिद पे अड़ी ये देखो

रो-रो के पूरे घर को

सर पे उठा लिया है

पर फोन नहीं मिला है

 

एक मस्ती खोर लड़की

एक छोटी सी प्यारी बच्ची

बहुत शोर मचा रही है

बहुत परेशान कर रही है

 

इसकी तोतली बोली मुझको

इसका जिद पे अड़ना मुझको

अत्यधिक लुभा रहा है

बहुत गुदगुदा रहा है

 

एक मस्तीखोर लड़की

एक मासूम सी प्यारी बच्ची

मुझको सता रही है

फोन के लिए रो रही है

 

फोन दे दो मुझ को

और रुलाओ न मुझ को

ये ठान लिया है

फोन पा लिया है

 

एक मस्तीखोर लड़की

एक भोली-भाली बच्ची

फोन पा गई है

बहुत मुस्करा रही है

……………………………..

देवेश दीक्षित

7982437710

Leave a Reply