कोरोना चालिसा

कविता:-15(85) हिन्दी ✍️ रोशन कुमार झा 🇮🇳-: 🙏 कोरोना चालिसा। ! 🙏। जय कोरोना जब तोहर वृहान में जन्म खून जागल ,जय दो हजार बीस , उन्नीस के असर बीस में विश्व लोक के लागल !चीन दूत कोरोना धामा ,चाईना पुत्र कोविड-19 नामा !सर्दी जुखाम क्रम-क्रम रंगी ,समझ जाओ ये है कोरोना के संगी !लक्षण मरण समाज में ऐसा,दिन रात न यह बढ़े हमेशा !हाथ ब्रज , मिथिला, मथुरा भारत में थाली बाजे ,करें ब्रहामण जनेऊ से प्रार्थना कहीं न ये कोरोनामहामारी बीमारी विराजे ! अंक्ल जन माक्स लगाकर हुए चाची के बंधन,तेज प्रताप से कोरोना कर रहे हैं विश्व को खण्डन !विद्यावान मुनि,कवि, विज्ञान अति बहादुर ,करें न कोई राहुल,अरूण नेता ऐसी भूल !चलें समाचार सुनने प्रधानमंत्री मोदी जी न्यूजपर अमेरिका रसिया,कोरोना तो हर कहीं हो चुके है बसिया ! छप्पन इंच छाती बड़ा काज दिखावा ,अमेरिका के धमकी से न, मानवता के कारण दिये दावा !भीम रूप कलि, फूल सहारे ,हाइड्रोक्सी क्लोरोक्वाइन दवा देकर नमस्तेट्रम्प के काज संवारे ! लाया सा दवा उससे भारत विश्व जियावे ,तब जग भारत पर फूल बरसावे !हिन्दुस्तान की गति बहुत बड़ाई ,तुम चीन सच में दुष्ट है भाई !सार्क के देश तुम्हारे विरोध में आवें ,विश्व अंदाज किये है अब तुम्हारे अंत लगावे !आज़ादी, गांधीवादी पर चले हमारी दिशा ,पर अब तुम विश्व सम्मेलन में लेना न मित्र हिस्सा !तुम्हारे यम कोरोना काल जहां ते ,हम जनता घर में कर्फ्यू लगे वहां थे ! तुम हम भारतीयों का उपकार कभी न चिन्हा ,तुम दुष्ट चीन हमेशा दुख ही दिन्हा !तुम्हारे मंत्र हम क्या ? विश्व न माना ,हम हमारी भारतीयों के कर्मों से विश्व गुरु कहे जमाना !तब तुम्हें हम कैसे अपना मानूं ,तबाह है सभी मुख्यमंत्री ममता, नीतीश कुमारभगाना है कोरोना ये विचार मैं भी ठानू !पायें न कोई सुख राही ,क्योंकि कोरोना रूकने पर तैयार नाहीं !दुख भरी काज तुम जगत के देते ,कौन ? तुम दुष्ट चीन के बेटे ! राम सहारे हम भारतीय दिया जलाकर किये औरकरें विश्व के रखवाले ,हे दुष्ट चीन तू अभी कमा रे ! हम तो हम तुम्हें भी है मरना ,अपनाया तो सनातन धर्म तुम्हें भी है जलना !तुम्हारे कारण विश्व तापें ,तुम पर मंडरा रही है सारी पापे !दुष्ट कोरोना अब निकट न आवे ,कब ? जब भारत अपना लांकडाउन हटावे !हंसे मुस्कुराये गांव घर और सब जिला ,करेंगे भारत मां की पूजा चढ़ायेंगे फल फूल निर्मलजल और खीरा ! विश्व से संकट घड़ी भारत हटावे ,जब कोई भारत के चरण में आवे !आदर्श राजन मोदी राजा ,खूब ठीक तनु वक्ष स्थल से योगी अंदाजा ! और दुख जो कोई लावे ,उसे भारत मां के भारत स्काउट गाइड, सेंट जांन एम्बूलेंस,एन.सी.सी, और एन.एस.एस के पुत्र ही मिटावे !हे चीन संकट फैलाना कर्म तुम्हारा ,है दुनिया को बचाना धर्म हमारा ! साधु संत के हम रखवाले ,तुम्हारे तो सोच ही है काले !दुख दिया मिटेंगे विधाता ,हंस-हंस कर दर्द सहे है हमारी भारत माता !कौन ? रखेंगे तुम पर आशा ,छल कपट से बढ़ा तू चीन यही है तुम्हारी परिभाषा !तुम्हारे कर्म विश्व को पावे ,विश्व सोचा अब तुम्हें हटावे ! अंत काल तू (UNO) यूं.एन.ओ पुर जाई ,वहां कोई साथ देंगे न ए चीनी भाई !और चीन अब चिंता मत करिए ,दुनिया को मारे अब आप भी मरिये !लांकडाउन हटें मिटे सब पीरा ,कष्ट से तड़फे न कोई राज्य और जिला !जय-जय कोरोना कसाई ,लाट मार कर अब विश्व तुम्हें भगाई !जो सट कर बात करें न कोई,. हटी इमरजेंसी,छुटी लांकडाउन, विश्व में महासुख होई !जो यह जब जब पढ़ें कोरोना चालिसा ,तब तब चीन को मिलें गाली जैसी भिक्षा ! तुलसी दास सदा गुरु , हम रोशन कुमार उनका चेला ,कोरोना को दूर कीजो नाथ , यही है ह्रदय से विनती मेरा !® ✍️ रोशन कुमार झा 🇮🇳09-04-2020 वृहस्पतिवार 17:30 मो:-6290640716,

Оформить и получить экспресс займ на карту без отказа на любые нужды в день обращения. Взять потребительский кредит онлайн на выгодных условиях в в банке. Получить кредит наличными по паспорту, без справок и поручителей

Leave a Reply