कैसा विरोध:-विजय

कैसा ये विरोध हैचारो ओर मचा शोर हैहो रही तोड़-फोड़ हैअराजकता की होड़ हैहिंसा हो रही घनघोर हैजनता की न कोई ठौर हैआंखों से बहते लोर हैमौज में सारे चोर हैझूठी खबरों की दौर हैसच का ठिकाना गोर(कब्र) हैआनन-फानन में लोग हैगुंडो के पूजे जाते गोड़ है सत्ता पाने की जोर हैजनता के हाथों डोर हैदूर विकास की भोर हैबेमेल का यहाँ जोड़ है मजहब-जाति का कोढ़ है लोक-मानसिकता में खोड़(दोष) हैलपटे आग की चहुँओर हैहो रहा कैसा ये विरोध है By:-VIJAY

Оформить и получить экспресс займ на карту без отказа на любые нужды в день обращения. Взять потребительский кредит онлайн на выгодных условиях в в банке. Получить кредит наличными по паспорту, без справок и поручителей

4 Comments

  1. deveshdixit DEVESH DIXIT 22/12/2019
    • vijaykr811 vijaykr811 24/12/2019
  2. Sukhmangal Singh sukhmangal singh 24/12/2019
    • vijaykr811 vijaykr811 25/12/2019

Leave a Reply