शहर – For the love of Mumbai)

न रूकता है ना थकता है ये शहर

समुंदर का किनारा अच्छा लगता है

दिलाें मे सभी के बेचैनी है हर डगर

यहॉं वक्त के पिछे दाैडना पडता है

पसीना चमकता है आठ पहर

जीवन रेल की पटरी पर दाैडता है

छाेटे कमराें मे है बडे ख्वॉब मगर

ऊंची ईमारताें में साैदागर रहता है

इसकी अपनी रफ़्तार है कहर

गिरफ्तारी में ईसकी हर काेई लढता है

चीखती खामाेंशियाें में बेजुबॉं है शाेर

यहॉं ईन्सानियत का छुपा चेहरा पनकता है

Оформить и получить экспресс займ на карту без отказа на любые нужды в день обращения. Взять потребительский кредит онлайн на выгодных условиях в в банке. Получить кредит наличными по паспорту, без справок и поручителей

Leave a Reply