जिंदगी………

ये गजल है गमजदा रोना न कोई
जो सताए नींद तो सोना न कोई

ये मुहब्बत काफ़िरो का काम कैसे
काफ़िरों के नाम दिल खोना न कोई

ख्वाहिशों का काम ही है दिल जलाना
बेवजह की लालसा ढोना न कोई

जिंदगी में क्या मिला है बाखुशी से
हारकर मायूस यूँ होना न कोई

जिंदगी “एकांत” की तो मस्त ही है
जिंदगी में गम मगर बोना न कोई
————————–//**–
(एकांत)
शशिकांत शांडिले, नागपुर
भ्र.९९७५९९५४५०

Оформить и получить экспресс займ на карту без отказа на любые нужды в день обращения. Взять потребительский кредит онлайн на выгодных условиях в в банке. Получить кредит наличными по паспорту, без справок и поручителей

One Response

  1. vijaykr811 vijaykr811 12/08/2019

Leave a Reply