मेरा यार:-विजय

ओ मेरे ओ यारा,तू सारे जग से है प्यारा
टूटे न अपनी यारी,जब तक है चाँद सितारा

अपनी जो यारी है,सारी दुनिया से निराली है
अब तो एक-दूजे के बिन,न होली न दिवाली है
जब तक दोनों साथ हो,दुनिया की क्या बात हो
जिंदगी एक-दूजे के बिन,हमको अब न गवांरा
ओ मेरे ओ यारा …………………………………….

अरे एक-दूजे के लिए तो,जान भी लुटा देंगे
गम न हो चेहरे पर कभी,खुशियाँ इतनी ला देंगे
अब तो सारी उम्र, हम तेरा साथ निभाएंगे
मेरे दिल की धड़कन अब,सांसो से है तुम्हारा
ओ मेरे ओ यारा …………………………………….

धूप जब लगेगी तुझको,छाँव हम बन जायेंगे
प्यास जब लगेगी तुझको,बादल हम बन जायेंगे
तेरे लिए कांटो पर, खुद ही हम बिछ जायेंगे
ऐसा दोस्त दुनिया में, मिलता है न दोबारा
ओ मेरे ओ यारा ……………………………………

4 Comments

  1. C.M. Sharma 07/08/2019
    • vijaykr811 10/08/2019
  2. डी. के. निवातिया 08/08/2019
    • vijaykr811 10/08/2019

Leave a Reply