मीठे बोल – बिन्देश्वर प्रसाद शर्मा – बिन्दु

मीठे बोलकौए को करने दो, काँव – काँवहम कोयल, मीठा ही बोलेंगे।मजबूरियाँ , अलग होंगी उनकीहम इंसान, रस अमृत घोलेंगे।।प्रेम सिखलायेंगे, हम सभी कोसब का ही हम, चुप्पी तोड़ेंगे।खुशियाँ लाकर, कदमों में देंगेएक – एक को , ऐसे जोड़ेंगे।।राह दिखलायेंगे, हम सभी कोऐसे पथ पर, उनको लायेंगे।नहीं करेंगे, कुछ हेरा – फेरीमानव धर्म, अपना निभायेंगे।।जो भटके हैं, राहों से अपनीआज सबको, गले मिलवायेंगे।प्रेम की बाती, बुझने न देंगेविश्वास, दिलों को दिलवायेंगे।।एकता में ही, जान है इतनीहम इस पर ही, कदम बढ़ायेंगे।हम नहीं हैं , कभी झुकने वालेमंजूर है , शीश कटवायेंगे।।

Оформить и получить экспресс займ на карту без отказа на любые нужды в день обращения. Взять потребительский кредит онлайн на выгодных условиях в в банке. Получить кредит наличными по паспорту, без справок и поручителей

Leave a Reply