हिचकी

एक दिन मुझको जोर जोर से हिचकी आयी,खुश थे हम इस बात से,चलो किसी को तो हमारी याद है आयी,जुबाँ पर एक एक करके हम सबके नाम दोहराने लगे,किसने दिल से याद किया था हमको,उस नाम को ढूढ़ने का जोर लगाने लगे,जैसे जैसे नाम की लिस्ट बढ़ती जा रही थी,हमारी दिल की धड़कन तेज होती जा रही थी,हिचकी भी रुकने का नाम नहीं ले रही थी,जोर जोर से आकर हमको तड़पा रही थी,अचानक हमारा ध्यान भंग हुआ,जब हमारे मोबाइल पर रिंग ऑन हुआ,जैसे ही हमने मोबाइल उठाया,कामबाली बाई ने अपना फरमान सुनाया,इतनी देर से फ़ोन कर रही हूँ आपको,आपने फोन क्यूँ नही उठाया,आज काम पर नही आऊँगी,मेरा दूर का रिश्तेदार है आया,उसका फ़ोन जैसे ही डिसकनेक्ट हुआ,मेरी हिचकी का आना भी यकायक बन्द हुआ,हमारी ख़ुशी कुछ ही पल की थी दोस्तों,हमारी हिचकी पर तो कामबाली बाई का नाम लिखा था,और अल्टीमेटम के रूप मे पूरे घर का काम लिखा था।।By:Dr Swati Guptahttps://youtu.be/8zIzSoqxPmY

Оформить и получить экспресс займ на карту без отказа на любые нужды в день обращения. Взять потребительский кредит онлайн на выгодных условиях в в банке. Получить кредит наличными по паспорту, без справок и поручителей

17 Comments

  1. C.M. Sharma 01/06/2018
    • Dr Swati Gupta 04/06/2018
  2. Shishir "Madhukar" 01/06/2018
    • Dr Swati Gupta 04/06/2018
  3. Atul Kumar Rai 01/06/2018
    • Dr Swati Gupta 11/06/2018
  4. Rajeev Gupta 01/06/2018
    • Dr Swati Gupta 04/06/2018
    • Dr Swati Gupta 04/06/2018
  5. Bhawana Kumari 02/06/2018
    • Dr Swati Gupta 04/06/2018
  6. mukta 04/06/2018
    • Dr Swati Gupta 04/06/2018
  7. Anu Maheshwari 04/06/2018
    • Dr Swati Gupta 04/06/2018
  8. kiran kapur gulati 23/06/2018

Leave a Reply to Dr Swati Gupta Cancel reply