Category: सविता वर्मा

तेरी स्मृतियाँ”” “”””” “सविता वर्मा

ये चाँद,ये तारे,ये रतिया तुम्हारे बिन न बांहो का तकिया के तुमको ही ढूढती है बहिया। ये मेहदी,ये पायल,ये बिदियां तुम बिन नही कोई बतियां के तुमको ही ढूढती …