Category: उमेश कुमार सिंह

पृथ्वी पुत्र बन

द्वंद्व में जीता जगत मैं और मेरा की रटन राष्ट्र परराष्ट्र की संकुचित मानसिकता अन्तरराष्ट्रीयता का नया भाई-चारा करती कुठारघात उस परमशक्ति के विशाल नीले कैनवास पर आकश, धरती …