Category: स्वप्निल सौरभ

देश के प्यारे अन्ना हजारे

अन्ना हजारे अन्ना हजारे तुम हो सारे देश के प्यारे।। जनलोकपाल बिल लाना ही होगा जड़ से भ्रष्टाचार मिटाना ही होगा।। जनता रोये कहाँ से खाऊँ नेता सोचे क्या-क्या …