Category: सुदर्शन अग्रवाल

बदलते तेवर

दफ्तर से जब मे घर पहुचा कोलिन्ग बेल का बटन दबाया हैरत मै पड़ गया जब दरवाजे पर नौकरानी की जगह श्रीमतीजी को पाया श्रीमतीजी मुस्कुराती है धीरे से …