Category: स्नेहा कुमार

एक कप चाय

एक कप चाय  पिला  दो ना ……प्लीजएक कप चाय पिला दो नासुनकर गुस्सा बहुत  आता थाछोटी  थी  तो  पापा कहतेबेटा ज़रा माचिस तो लानाऔर धुँआ फैल जाता पूरे कमरे …

कविता जो तुमसे छोटी रह गयी

कविता जो तुमसे छोटी रह गयी तुम्हारे बड़े होने के अभिमान में हो गयी और छोटी हो गयी नीची आँखे उसकी चुनरी में दबक गयी साथ लिए असंख्य पीड़ाएँ …