Category: सारांश सागर

ये कैसा प्यार – प्यार और सम्मान किसी तारिक विशेष के मोहताज नही !!

आज स्कूल,कालेजो में बहुत अच्छा प्यार देखने को मिल रहा है ???? ! लड़का-लड़की कॉलेज के पास खोके के दुकान में सिगरेट,दारू और न जाने कौन सी नशीली पदार्थ का सेवन …

एक भावपूर्ण कहानी – मृत्यु का कारण बनी लापरवाह और नासमझी !!

रक्षा-बंधन आने वाली थी इसीलिए मुन्नी के माता-पिता ने अपने बुआ-फूफा के यहाँ जाने का प्लान बनाया ! पर मुन्नी के पापा को व्यापार से सम्बंधित कुछ जरुरी काम …

स्वच्छता नही है कोई अभियान, ये है मनुष्य का गुण और व्यवहार

भूल चूका क्यों ये इंसान,स्वच्छता नही है कोई अभियान जो था पहले कभी गुण और व्यवहार उसने ले लिया अब अभियान का आकार मिली थी अभियान को शुरू में …