Category: राधाकृषण ‘विशेष’

कर ली दोस्ती

रोशनी जब हमसे हटाली दोस्ती, हमने अँधियारे से करली दोस्ती   मिला न कोई जिंदगी मे हमसफर, ह्मने तन्हाई से कर ली दोस्ती   खवाहिश न हक़ीकत मे जब …