Category: निरंकार देव सेवक

तितली-2

दूर देश से आई तितली चंचल पंख हिलाती, फूल-फूल पर, कली-कली पर इतराती-इठलाती । यह सुन्दर फूलों की रानी धुन की मस्त दीवानी, हरे-भरे उपवन में आई करने को …

लाल टमाटर

लाल टमाटर-लाल टमाटर, मैं तो तुमको खाऊँगा, रुक जाओ, मैं थोड़े दिन में और बड़ा हो जाऊँगा । लाल टमाटर-लाल टमाटर, मुझको भूख लगी भारी, भूख लगी है तो …