Category: नन्दकिशोर महतो

अगर तुम्हारा साथ होता

भूमिका : दोस्तों यह कविता एक अलग सी कोशिश हैं जिसमें एक आदमी फरिस्ते के द्वारा अपने स्वर्गवासी पत्नी को पैगाम देता है | वो अपना हाल ऐ दिल …

आये ऐसा देश बनाये

आये ऐसा देश बनाये, एक नया चेतना जगाये. कदम से कदम मिलाये, समानता का भाव जगाये. देशवाशी अपना फर्ज निभाये, देश को उन्नत बनाये. देश को हम स्वच्छ बनाये, …