Category: मोहित राजपाल

देश प्रेम की नई परिभाषा।

देश के नए भक्तों जरा देश से भी पुछलो देश भक्ति किसे कहते है? उन जांबाजों से जानलो जो देश की सिमा पर गोलियों को बौछार सेहते है। जिनके …

वो कोन थी जो मुस्कुराई और चली गयी।

वो कौन थी जो मुस्कुराई और चली गयी उसका पलकों को झुकाना। बालो को अपने माथे से हटाना ।। उसकी आँखों का गेहरा काजल । जैसे आसमान में घटा …

कीमत ज़िन्दगी की।।

ज़िन्दगी की किमत बहुत काम है यहां इंसानियत सिर्फ एक शब्द है जहां खुदगर्ज़ी सिर्फ कुत्ते मे दिखती है चन रुपयो के लिए खाकी बिकती है सुंदरता सिर्फ चेहरे …

“ज़िन्दगी बस तू इतना बता अभी कितना सफर और बाकी है।”

“ज़िन्दगी बस तू इतना बता अभी कितना सफर और बाकी है।” गमो के बीच से कहीं ख़ुशी कभी दिख जाती है। वक़्त बेवक़्त उसकी याद बहुत आती है। दिल …