Category: दत्त

चँदन के चहला मेँ परी परी पँकज की पँखुरी नरमी मैँ

चँदन के चहला मेँ परी परी पँकज की पँखुरी नरमी मैँ । धाय धसी खसखानन हाय निकुँजन पुँज भिरी भरमी मैँ । त्योँ कवि दत्त उपाय अनेक किए सिगरी …