Category: बाबासाहेब लांडगे ‘सारथी’

कर्तव्य का निर्माण

कर्तव्यों से भी बडे कर्तव्य है, उसी को निभाओ.     बन्धनों मे बँधकर, वास्तविक जीवन का कर्तव्य न भूल जाओ.        जीवन बना किसलिए? इसका उत्तर ढूंढ निकालो.     जीवन की जो …