Category: अश्वघोष

चन्दा मामा दूर के

चन्दा मामा दूर के छिप-छिप कर खाते हैं हमसे लड्डू मोती चूर के लम्बी-मोटी मूँछें ऐंठे सोने की कुर्सी पर बैठे धूल-धूसरित लगते उनको हम बच्चे मज़दूर के चन्दा …