Category: अनूप मिश्रा

प्रौढ़ शिक्षा

प्रौढ़ शिक्षा आ अब लौट के चल उस गाँव मे एक चौपाल बिछायें बरगद की छाँव मे गाँव के बुजुर्गों के पढ़ना सिखायें प्रौढ़ शिक्षा का अभियान चलायें जहाँ …

चलो चलें एक पेड़ लगायें…..

चलो चलें एक पेड़ लगायें चलो चलें एक पेड़ लगायें ,हम सब मिलकर वन उपजायें छाया हो तपती राहों मे, झूला खेंलें हम इनकी बाहों मे मीठे-मीठे फल खाकर …

पानी की गाड़ी……………अनूप मिश्रा

पानी की गाड़ी पानी से जब चलेगी गाड़ी सोचो क्या हो जायेगा डीजल पेट्रोल और ईंधन सब धरा रह जायेगा नही चलेगी चोर बाजारी हर घर मे उत्पादन होगा …

बिलखती नदी टूटते पहाड़………………..(अनूप मिश्रा)

बिलखती नदियाँ टूटते पहाड़ हिमालय मे हो रहा नित मन्थन सुनाई दे रहा नदियों का क्रन्दन खो रहा घाटों का चैनो अमन……..फिर क्यों मौन हो रहे हैं हम बाँज-बुरांश …