Tag: Shanti vijay

हथियार चुनो- अरूण कुमार झा बिट्टू

हम हैं सबल फिर भी दुश्मन ललकार रहा वो जानता हमे शान्ति प्रियता ने बांध रखा पर कब तक अब तो मन की ललकार सुनो शांति विजय को आ …