Tag: देश पर कविता

इन्तजाम- अरूण कुमार झा बिट्टू

आजादी के दशको बीते फिर भी दिन बेहाल हैं उफ आज भी मेेरे भारत में भूखे सोते परिवार हैं बच्चो की माशूमियत दर दर भटकती फिरती हैं लाल बत्ती …

आतंक के अंत की तैयारी : रामगोपाल सांखला गोपी

उडी में पाक ने नापाक इरादे से कायराना हमला किया भारत ने सर्जिकल स्टराइक कर ईंट का जवाब पत्थर से दिया सेना ने जो किया यह तो एक टेलर …

तुम्हे दोस्ती या दुश्मनी चाहिए – अनु महेश्वरी

हम गाँधी के वंशज है, जो शांति के पुजारी थे, तो हम सुभाष और भगत सिंह, के भी वंशज है, यह ध्यान रहे, किसी भी भ्रांति में मत रहना …

सर्वशक्ती उन्नती का एक यही वरदान हैं- बिट्टू

सर्वशक्ती उन्नती का एक यही वरदान हैं सहयोग हो हर एक जन का ,तभी सरल हर काम हैं वो महल भी बिखर गया है जहा दिलो मे खटास हैं …

मेरे घर को बाँट दिया — डी के निवातिया

मेरे घर को बाँट दिया *** मेरे घर को बाँट दिया है, धर्म के कुछ ठेकेदारो ने ! मातृभूमि से छल किया है, वतन के ही गद्दारो ने !! …

मैं शरीफ था इसलिए चुप रहा- आशीष अवस्थी

मैं शरीफ था इसलिए चुप रहा लोगों ने समझा मुझे जवाब नहीं आता जब से शराफत निकाल के फेंकी मैंने अब लोगों को सवाल नहीं आता  कुछ सोच कर …

अब तक क्यों ना ठानी है – शिशिर मधुकर

जब भी मेरी भारत माता का कोई लाल बलि चढ़ जाता है कायरता का रोना धोना अपने अखबारों में छप जाता है दुर्दांत पड़ोसी से सभ्य व्यवहार की आकांक्षाएँ …

देश के लाल फना हो जाते है — डी. के. निवातिया

देश के लाल फना हो जाते है *** पुराने जख्म भरते नहीं की नये फिर से मिल जाते है सेनापतियों की गैरत पे जाने क्यों ताले पड़ जाते है …

अब्दुल कलाम, तुझे मै करता रहूँ हमेशा सलाम !! ~Gursevak singh pawar

देश को बुलंदी पर पहुँचाने वाला, अपने आप को देश के लिए बनाने वाला !! अब्दुल कलाम, तुझे मै करता रहूँ हमेशा सलाम !! ख़ुशी-ख़ुशी तुम ने अपना जीवन …

उधम सिंह सरदार… ~Gursevak singh pawar

उधम सिंह सरदार… देश की शान बचाने वाला, देश का मान बढ़ाने वाला !! उधम सिंह सरदार… पंजाब की मिटटी मे पैदा होकर, तुमने गुरुओं का मान बढ़ाया !! …

घर घर दीप जलाए हैं – शिशिर मधुकर

मेरे देश के सैनिक वीरॉ मेरा नमन स्वीकार करो दुश्मन चैन नहीँ पाए तुम ऐसा प्रबल प्रहार करो जिन लालों ने सीमाओं पर अपने प्राण लुटायें हैं उनकी यादों …

जल रहा हैं हिन्दुस्तान

“आरक्षण की आग मे जल रहा हैं हिन्दुस्तान”, शिक्षा नौकरी पाने को बिक रहे हैं कई मकान, ठोकरे मिलती हैं यहा मिलता नही हैं ग्यान…. “आरक्षण की आग मे …

३३. देशों में ओ देश अपना …………..|गीत| “मनोज कुमार”

देशों में ओ देश अपना प्यारा हिन्द देश है अनोखी पहचान इसकी ऊँची अपनी शान है बहुरंगी संस्कृति इसकी भव्यता विशाल है मनमोहक है सुन्दरता वास्तुकला मिसाल है देशों …

विघ्वंस धरा पर क्यों? —“आलोक पान्डेय “

तेरी यादों में जन मुरझाये हुए हैं सोच सोच कर भी सुखाये हुए हैं; क्या यही हश्र होता रहेगा देश कब तक लाल खोता रहेगा! भावनावों में जन आज …

गद्दारो का कुछ करना हैं – शिशिर मधुकर

भारत की रग रग में गर ताकत हम सबको भरना हैं सबसे पहले घर में बैठे इन गद्दारो का कुछ करना हैं भारत को जब चोट लगे तो जो …

सत्तर सालों से – शिशिर मधुकर

जम्मू कश्मीर भारत का अभिन्न अंग है बार बार क्यू बतलाते हो ऐसा कह कह कर खुद तुम इसे एक विवादित मुद्दा जतलाते हो अगर ये अभिन्न अंग है …

शक्ति – पुंज

धन -धान्य संपदा यौवन जिनके भूतल में समाये जन्मभूमि के रक्षक जिनने अनेकों प्राण गवाये। जिनके आत्म- शक्ति धैर्य से अगणित अरि का दमन हुआ देखा जग अकूत शौर्य …