Tag: महिलाओं पर कविता

एक महिला की ताकत

उसूल बने है, तोड्ने के लिए। परिवार बना है, जोड्ने के लिए। एक महिला अपना सब कुछ त्याग कर, आती है घर बसाने के लिए। एक मकान को, स्वर्ग …