Tag: Hindi

कहाँ से लाऊँ ढूंढ के…सी.एम्. शर्मा (बब्बू)..

घर था कभी जो अब मक़ान हो गया… ज़िंदा लाशों का वो शमशान हो गया…. कच्चे घरों में आती थी रिश्तों की खुशबू… पक्के क्या हुए सब सुनसान हो …

साथ ।

बुरे वक़्त में, साथ दिया था जिन-जिन का, हर वक़्त मैंने, कह कर, आज धतकार दिया, सब ने, `हम तुम्हें जानते नहीं..!` धतकारना = अपमानित करना; मार्कण्ड दवे । …