Tag: गीत

नज़ारा – डी के निवातिया

नज़ारा *** कुछ इस तरह मुझ से किनारा कर लिया ! मेरे अपनों ने घर-बसर न्यारा कर लिया !! समझता रहा जिन्हे ताउम्र मै खुद का हमदर्द ! फूलों …

कौन ढलना चाहे – डी के निवातिया

कौन ढलना चाहे ********** है भला कौन मुसाफिर राह में जो संग चलना चाहे हर कोई चाहे नया रंग , मेरे रंग कौन ढलना चाहे !! हर किसी को …

कान्हा कान्हा पुकारे ये दिल – अनु महेश्वरी 

कान्हा कान्हा पुकारे ये दिल रे, अपने भक्तो से आकर मिल ले। रात दिन लगी तेरी ही धुन रे, भक्तो की पुकार अब सुन ले, तुम दर्श आकर दिखा …

बाबा हम शिरडी आये

बाबा हम शिरडी आये, तेरे दर्शन करने साईं-साईं जपते-जपते, कष्ट लगे हैं मिटने बाबा हम शिरडी आये….. दूर-दूर से लोग हैं आते, अपनी व्यथा सुनाते बस्ती-बस्ती, पर्वत-पर्वत, तेरे ही …

तू मेरा साईं, तू मेरा राम है

तू मेरा साईं, तू मेरा राम है। तेरी पूजा निसदिन मेरा काम है।। हो…..हो…..हो….. नहीं तुझसे बड़ा है संत कोई…. और गुरु कोई…. तेरी भक्ति, तेरी शक्ति, जीवन का …

गीत : बाद जिंदगी यूँही ढल जाएगी

बाद जिंदगी यूँही ढल जायेगी….. बिना हरि नाम के जीने वालो, जाम मद मोह, का पीने वालों, जाप हरि नाम का करके देखो, जाम हरि नाम का पीकर देखो, …

दीवाना – डी के निवातिया

दीवाना ___ मै दीवाना, तेरी कातिल अदाओ पे मरने आ गया लुटां के जां इस जुर्म का जुर्माना भरने आ गया !! मुहब्बत करते देख जमाने को बाते बहुत …

तुम न समझे – डी के निवातिया

  तुम न समझे *** बहुत बुझाई पहेलियाँ, मगर कोई सवाल तुम न समझे ! समझ गई दुनिया सारी कितने हुए बवाल तुम न समझे !! टूट गए हम …

प्रीत के फेरे – शिशिर मधुकर

तुम्हें दिल दे दिया मैंने नहीं कुछ पास अब मेरे मेरी साँसों की खुशबू बस चुकी है साँसों में तेरे दूरियां अब कभी हमको परेशां कर न पाएंगी हवाएं …

काहे भरमाये — डी के निवातिया

काहे भरमाये *** काहे भरमाये, बन्दे काहे भरमाये नवयुग का ये मेला है बस कुछ पल का खेला है आनी जानी दुनिया के रंग मंच पे नहीं तू अकेला …

यशोदा तेरा ललन बड़ा निराला – डी के निवातिया

यशोदा तेरा ललन बड़ा निराला *** हलधर का भाई, नन्द का लाला, यशोदा तेरा ललन बड़ा निराला, बड़ा निराला, मैया बड़ा निराला, यशोदा तेरा ललन बड़ा निराला !! कमर …

कुछ यादें बीते साल की – सोनू सहगम –

-: कुछ यादें बीते साल की :- कुछ यादें बीते साल की, नये साल में बहुत याद आयेगी कुछ यादें माना आँखें करेंगी नाम कुछ यादें चहरे पर मुस्कान …

मैं सैनिक हूँ

मैं सैनिक हूँ मैं जगता हूँ रातभर चौकस निगाहें गड़ाए हुए उस जगह जहाँ अगली सुबह देख पाऊं इसमे भी संशय है उसके लिए जो अभी अभी छाती से …

दो दूना बाइस — डी के निवातिया

दो दूना बाईस — बेवजह में वजह ढूंढने की गुंज़ाइश चाहिये ! काम हो न हो पर होने की नुमाइश चाहिये !! कौन कितना खरा है, किसमे कितनी खोट …

चिड़िया

शाम बढ़ती जा रही थी बेचैनी उमड़ती जा रही थी शाख पर बैठी अकेली दूर नजरों को फिराती कुछ नजर आता नहीँ फिर भी फिराती चीं चीं करती मीत …

मैं बदली हूँ, बस नीर भरी…सी.एम्. शर्मा (बब्बू)…

मैं बदली हूँ, बस नीर भरी… बिन बरसे, बरसूं हर घडी… मैं बदली हूँ बस नीर भरी… सावन आये लाये बौछार.. शोलों सा वो करें प्रहार… मन मेरा करे …

सांवरे तेरे प्यार में……………….दीवानी हो गयी |भजन| “मनोज कुमार”

सांवरे तेरे प्यार में, गिरधर बातों के जाल में राधा तेरी रानी, दीवानी हो गयी, दीवानी हो गयी कानन कुंडल की ये, मोहिनी मूरत की ये मोहन तेरी रानी, …