Tag: छंद कुण्डलिया

बाल श्रम : छंद कुण्डलिया

(१) बालिका की नज़र से फोटो खींचा खींच लो, जानूं नहिं क़ानून. मैं तो फ़र्ज़ निभा रही, मेरा देख ज़ुनून. मेरा देख ज़ुनून, घूरते लोग अचम्भा. साफ़ करूं वह …