Tag: (हाइकु)

होली (हाइकु) — डी. के. निवातिया

होली के रंग उड़ाये संग संग मिलके हम  ! ! प्रेम रंग में रंगे उठारगम हर्षाये मन ! ! फागुन मास लहलाये फसल छिटके रंग ! ! धानी चुनर …