Tag: सौगात

सौगात —डी. के. निवातिया

आयी फिर याद भूली बात की तरह ! गुजरी है लश्कर-ऐ-बारात की तरह !! ! कितने बदल गये यार सब अपने वक़्त – बेवक़्त हालात की तरह ! ! …