Tag: सावन के बदरा

सावन के बदरा — डी के निवातिया

सावन के बदरा ये सावन के बदरा भी बड़े निगोड़े है, मेरे दिलबर की तरह ! रोज़ उमड़ उमड़ आते है, बिन बरसे पास से गुज़र जाते है !! ! …