Tag: शिवदत्त श्रोत्रिय

दुनिया में सबसे बड़ा मजहब है

एक कहे मंदिर में रब है दूजा कहे खुदा में सब है तीजा कहे चलो गुरुद्वारा चौथा कहे कहाँ और कब है मैं कहता माँ बाप की सेवा दुनिया …