Tag: शिव

वन्दना-अरूण कुमार झा बिट्टू

हे शिव कठपुतली हम और तेरे हाथो मे हैं डोर तू चाहे सम्भाल ले हमको छोर दे चाहे जीवन डोर हे शिव…… मान मिले सम्मान मिले तू चाहे उसको …