Tag: विद्यालय पर कविता

मेरा विद्यालय (बाल कविता)

(लावणी कुकुभ ताटंक तीनो छन्दों में) विद्यालय यह मेरा न्यारा, विद्यार्चन करें पुजारी। ज्ञान-सुमन से ही पुष्पित है, अपनी यह सुंदर फुलवारी।। शिक्षक हैं विद्वान गुणी सब, हम बच्चों …