Tag: रिश्ते

दूर रह कर हमेशा हुए फासले

दूर रह कर हमेशा हुए फासले ,चाहें रिश्तें कितने क़रीबी क्यों ना हों कर लिए बहुत काम लेन देन के ,विन मतलब कभी तो जाया करो पद पैसे की …

रिश्तों की कमीज..

रिश्ते भी कमीज सरीखे होते हैं.. कुछ नए..कुछ पुराने..तो कुछ फटे हुए.. नए वाले अच्छे हैं चमक है उनमें पार्टी फंक्शन में पहनता हूँ कुछ रौब भी जम जाता …