Tag: मैं और वह …….(वर्ण पिरामिड)

क्यों आसक्ति हुयी अन्जाने से

वर्ण पिरामिड था खड़ा बस में भीड़ बीच हो असहाय यूँही बेखबर आने वाले पल से आई कही से खुसबू मदहोश करने वाली दिल बेचैन सा होता गया थी …