Tag: माँ है वो मेरी।

माँ है वो मेरी !! – इस कविता रचना में मेरे और माँ के बीच के प्रेम व् परिस्थिति का विवरण है !

माँ है वो मेरी। मुझको जग में लाने वाली ममतामयी है माँ मेरी। कैसे करू मै उसकी सेवा ये समझ आता नहीं। अपने ममता के स्पर्श से जिसने किया …