Tag: बैठ जाये पीछे आज्ञा से और ले ले झपकी 10 या 15 मिनट

कॉलेज का माहौल है ऐसा,नही सोचा था कभी मैंने जैसा- कॉलेज के अनुभव के आधार पर

कॉलेज में शुरू के दिनों के बाद का अनुभव को कविता में प्रस्तुत करने की छोटी कोशिश की है कॉलेज का माहौल है ऐसा,नही सोचा था कभी मैंने जैसा …