Tag: पियुष राज दुमका

माँ के चरणों में चारों धाम….(पियुष राज)

ईश्वर को कहाँ ढूंढे रे बंदे ईश्वर ही माँ का दूजा नाम वो ही कृष्ण है वो ही राम माँ के चरणों में चारो धाम उसी की गोद में …