Tag: तुम्हारी अदा

तुम्हारी अदा – डी के निवातिया

तुम्हारी अदा *** इतना प्यार करते हो, कभी न जताते हो तुम यदा कदा ही सही मगर, बहुत सतातें हो तुम कैसे न जां निसार करें हम तुम्हारी अदाओं …