Tag: ग़ज़ल (मौत के साये में जीती चार पल की जिन्दगी)

ग़ज़ल (मौत के साये में जीती चार पल की जिन्दगी)

ग़ज़ल (मौत के साये में जीती चार पल की जिन्दगी) आगमन नए दौर का आप जिसको कह रहे वो सेक्स की रंगीनियों की पैर में जंजीर है सुन चुके …