Tag: काश्मीर पर कविता

काश्मीर

सुबह -सुबह मुह हाथ धोकर पेट में कुछ भोजन अंदर कर बैठ गया सोना बेटा को पढ़ाने होम टास्क की डायरी खोलने पर देखा काश्मीर के उपर निबंध भुले-बिसरे …