Tag: कवि

कवि – दोहे – डी के निवातिया

कवि लिख लिख रचना कवि भये, मांगे सबका प्यार ! खुद न  किसी  को  भाव  दे, बन कर रचनाकार !! नवयुग का आधार है, करते मन की बात ! …