Tag: कतराने लगे है लोग

कतराने लगे है लोग — डी के. निवातिया

कतराने लगे है लोग   अब तो किसी को पानी पिलाने से भी कतराने लगे है लोग ! क्या कहे सामूहिक भोज भी मुँह देख खिलाने लगे है लोग …