Tag: एक नजर

एक नजर — डी के निवातिया

***एक नजर *** बुझती नहीं प्यास साकी अब सिर्फ जाम से दिल झूमने लगता है सूरज ढलते ही शाम से फकत एक नजर जी भर के देख लेने दो …